क्या आप अपने माता-पिता का सम्मान दिल से करते हैं? How much you love your parents?

मेरे प्यारे दोस्तों आपका यह ब्लॉगर पॉडकास्टर यूट्यूब पर लेखक मोटिवेशनल स्पीकर बताना चाहता है अहम मुद्दे पर कुछ अपने विचार::क्या आप अपने माता-पिता का सम्मान दिल से करते हैं? How much you love your parents?

दोस्तों हर बच्चा अपने माता पिता को अपने दिल से ज्यादा चाहता है फिर क्यों ऐसा हो जाता है उन्हीं को अनाथ आश्रम या वृद्ध आश्रम में रहने को मजबूर हो जाता है।

सबसे बड़ी चीज है कि कुछ लोगों के संस्कार ऐसे होते हैं कि वह अपने पेरेंट्स का ध्यान नहीं रखते। मैं तो यह कहूंगा की पेरेंट्स को भी एक्सपेक्टेशन नहीं करनी चाहिए।

कई बार माता पिता अपने ही बेटे के घर में प्राय होने पर मजबूर हो जाते हैं इसका केवल एक ही कारण है कि जो बहु उसने सिलेक्ट की है कहीं संस्कारों से कोसों दूर लड़की को उसने अपना जीवन साथी चुना है।

दोस्तों मेरा तो नजरिया कुछ ऐसा है कि हम अपने बेटे और बेटी को ऐसे संस्कार दें क्यों जाकर अपने सास-ससुर से अच्छी तरह से व्यवहार कर सकें।

मां-बाप चाहे बेटे के हो या बहू के, अपनी तरफ से शानदार संस्कार देना मां बाप का फर्ज है। समझने की कोशिश करिएगा जो आज अपने मां-बाप का ध्यान नहीं रख सकते कल उनके बच्चे भी यह सब चीज देखते हैं।

मैं यह भी कहना चाहूंगा दोस्तों कि किसी के चेहरे पर कुछ लिखा नहीं होता। अक्सर सुंदर चेहरे धोखा दे जाते हैं अच्छे अच्छे को।

इसीलिए तो हमारी पुराने जनरेशन लड़के और लड़की का खानदान पर नजर रखते थे जिससे कि उनके बच्चे जिंदगी को अच्छी तरह से व्यवहारिक तरीके से जी सकें।

बूढ़ा पिता अपने IAS बेटे के चेंबर में जाकर उसके कंधे पर हाथ रख कर खड़ा हो गया !

और प्यार से अपने पुत्र से पूछा…

“इस दुनिया का सबसे शक्तिशाली इंसान कौन है”?

पुत्र ने पिता को बड़े प्यार से हंसते हुए कहा “मेरे अलावा कौन हो सकता है पिताजी “!

पिता को इस जवाब की आशा नहीं थी, उसे विश्वास था कि उसका बेटा गर्व से कहेगा पिताजी इस दुनिया के सब से शक्तिशाली इंसान आप हैैं, जिन्होंने मुझे इतना योग्य बनाया !

उनकी आँखे छलछला आई !
वो चेंबर के गेट को खोल कर बाहर निकलने लगे !

उन्होंने एक बार पीछे मुड़ कर पुनः बेटे से पूछा एक बार फिर बताओ इस दुनिया का सब से शक्तिशाली इंसान कौन है ??? *पुत्र ने इस बार कहा...* *"पिताजी आप हैैं,* *इस दुनिया के सब से* *शक्तिशाली इंसान "!*

पिता सुनकर आश्चर्यचकित हो गए उन्होंने कहा “अभी तो तुम अपने आप को इस दुनिया का सब से शक्तिशाली इंसान बता रहे थे अब तुम मुझे बता रहे हो ” ???

पुत्र ने हंसते हुए उन्हें अपने सामने बिठाते हुए कहा ..

“पिताजी उस समय आप का हाथ मेरे कंधे पर था, जिस पुत्र के कंधे पर या सिर पर पिता का हाथ हो वो पुत्र तो दुनिया का सबसे शक्तिशाली इंसान ही होगा ना,,,,,

बोलिए पिताजी” !

पिता की आँखे भर आई उन्होंने अपने पुत्र को कस कर के अपने गले लगा लिया !
“तब में चन्द पंक्तिया लिखता हुं”
*जो पिता के पैरों को छूता है *वो कभी गरीब नहीं होता।*

जो मां के पैरों को छूता है वो कभी बदनसीब नही होता।

जो भाई के पैराें को छुता हें वो कभी गमगीन नही होता।

जो बहन के पैरों को छूता है वो कभी चरित्रहीन नहीं होता।

जो गुरू के पैरों को छूता है
उस जेसा कोई खुशनसीब नहीं होता…….

💞अच्छा दिखने के लिये मत जिओ
बल्कि अच्छा बनने के लिए जिओ💞

💞जो झुक सकता है वह सारी
☄दुनिया को झुका सकता है 💞

💞 अगर बुरी आदत समय पर न बदली जाये
तो बुरी आदत समय बदल देती है💞

💞चलते रहने से ही सफलता है,
रुका हुआ तो पानी भी बेकार हो जाता है 💞

💞 झूठे दिलासे से स्पष्ट इंकार बेहतर है
अच्छी सोच, अच्छी भावना,
अच्छा विचार मन को हल्का करता है💞

💞मुसीबत सब प आती है
कोई बिखर जाता हे
और कोई निखर जाता हें

💞 “तेरा मेरा”करते एक दिन चले जाना है…
जो भी कमाया यही रहे जाना हे

🙏🏼 सदैव बुजुर्गों का सम्मान करें 🙏🏼
*💐🙏शुभ प्रभात ,खुश रहे स्वस्थ रहे🙏💐

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.