जीवन संगिनी की विदाई

दोस्तों ब्लॉगर ने एक बहुत ही प्यारे से मैसेज को थोड़ा मार्मिक है आप सभी के सामने प्रस्तुत किया है जीवनसंगिनी धर्मपत्नी की विदाई।Wonderful truth of life?

यह ब्लॉग सभी के ऊपर चरितार्थ होता है ऐसे कुछ ही बिरला इंसान इस दुनिया में है जिन में इंसानियत की कमी है और वह इस बात से बेखबर है वरना पति पत्नी का रिश्ता तो ऊपर वाला ही निर्धारित करता है।

इनके साथ हम अपने भीम के साथ जिंदगी को जीने की कला ही भूल जाते हैं प्यार रिश्ते नाते ताक पर लगा दिए जाते हैं।

इसमें किसी की कोई बुराई नहीं केवल और केवल संस्कारों का अंतर है। से बड़ी चीज तो यह है कि आदमी गलत होकर भी अपने को गलत नहीं मानता।

ब्लॉगर यहां पर किसी को कुछ ज्यादा समझाने के हिसाब से नहीं बात कर रहा जिसने समझना है वह समझ जाएगा और जिसने नहीं समझना बाद में समझेगा।

इस जिंदगी में अगर किसी ने आपस में प्यार ही नहीं किया मां बाप भाई बहन रिश्तेदार तू वह जिंदगी ही बेकार है। किसी को बुरा लग सकता है लेकिन मेरा अभिप्राय बिल्कुल क्लियर है।

बचपन से ही कुछ लोग शादी के सुनहरे ख्वाब देखने लगते हैं. शादी का क्रेज लगभग हर किसी को होता है भले किसी को कम तो किसी को ज्यादा. शादी जीवन भर का बंधन है और कोई भी शादी के बंधन में यह सोचकर नहीं बंधता कि उसकी जिंदगी शादी के बाद खराब हो जाएगी इसीलिए जीवनसाथी चुनने से पहले हर कोई कई चीजों को देखता है.

शादी की शुरुआत में तो सब कुछ बहुत ही अच्छा होता है लेकिन धीरे-धीरे चीजें जब अपने स्वाभाविक स्तर पर आने लगती हैं तो कई बार हालात उम्मीद से बिल्कुल विपरीत हो जाते हैं.

मैं अपनी बीवी से परेशान हूं क्या करूं?

एक पत्नी का धर्म क्या होता है?

पति अगर नाराज हो तो क्या करना चाहिए?

पति पत्नी कैसे रहना चाहिए बताइए?


ग्रहों की नाराजगी से बचें, दाम्पत्य जीवन में बरतें सावधानी…जानें आज की दिनचर्या1 सप्ताह में कम से कम एक बार अपनी धर्मपत्नी जी बाहर घुमाने जरुर ले जाए और फ़ास्ट फ़ूड या खाने का प्रोग्राम भी होना चाहिए, इससे आपका और मिसेज का मूड ठीक रहेगा।

2 दुनिया की सभी चीजों को भूल जाइये लेकिन वाइफ का जन्मदिन और शादी की सालगिरह कभी मत भूलें।3 सम्बन्ध के लिए कभी भी जबरदस्ती न करें, दोनों की सहमती होने पर ही धीरज से सहवास करें, जल्दबाजी न करें।

4 भूलकर भी उसकी सहेली या पड़ोसन की सुन्दरता की तारीफ घरवाली के सामने न करें।5 कभी कभार सुबह जल्दी उठकर चाय बनाकर सरप्राइज दें।NRI DAY फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी, जानें इनकी कहानी6 ऑफिस से आने के बाद बच्चों को थोडा समय देकर उन्हें पढाये।

7 यदि बोनस आदि आये तो उसकी ज्वेल्लेरी आदि बनाकर गिफ्ट करें।

8 औरतों की सबसे बड़ी कमजोरी शॉपिंग है, इस बात का हम्रेशा ध्यान रखे।9 घर में बने खाने की तारीफ करना सीखे।10 पत्नी की जरूरतों का ख़ास ख्याल रखें, बात बात में उसे नीचा दिखाने या  उसका मजाक उड़ाने का प्रयत्न बिलकुल न करें।

searches

पति कोपति के पास पत्नी के नाम का क्या होता है

पति पत्नी रात में कैसे सोना चाहिए

पति पत्नी के बीच प्यार बढ़ाने के उपाय

अनुरोध आचार्य की पत्नीपति-पत्नी की लड़ाई

पति और पत्नी काजो पत्नी अपने पति को बहुत सताती है

https://zeenews.india.com/hindi/special/dear-zindagi-400th-edition-life-talk-on-husband-wife-sharing-household-chores-by-dayashankar-mishra/482735https://zeenews.india.com/hindi/special/dear-zindagi-400th-edition-life-talk-on-husband-wife-sharing-household-chores-by-dayashankar-mishra/482735

सवाल यह उठता है कि पत्नी और मां के बीच संतुलन की जरूरत क्या है?अगर कोई पति अपनी बीवी को ज्यादा वक्त देता है तो यह बिल्कुल जायज है क्योंकि वह आपकी जिंदगी में तुरंत आई है और रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए ऐसा करना जरूरी भी है.

लड़की अपना घर छोड़कर अपने पति के परिवार में आती है और शादी के शुरुआती दिनों में ही आपके रिश्ते की असली नींव रखी जाती है. अगर पति अपनी पत्नी के साथ ज्यादा वक्त बिताता है तो इसे इस तरह से बिल्कुल नहीं देखा जाना चाहिए कि वह किसी के बेटे को छीन रही है. किसी भी नई चीज को बनाने के लिए ज्यादा कोशिशों की जरूरत पड़ती है तो फिर एक नए रिश्ते को बनाने के लिए भी उतनी ही मेहनत क्यों नहीं?

” बुढ़ापा Vs. वरिष्ठता “👴🏻

दोनों के अंतर को समझें और जीवन का आनंद लें ।
इंसान को उम्र बढ़ने पर… “ बूढ़ा” नहीं बल्कि …. “ वरिष्ठ ” बनना चाहिए ।

“ बुढ़ापा ”…अन्य लोगों का आधार ढूँढता है,
“ वरिष्ठता ”… लोगों को आधार देती है.

“ बुढ़ापा ”… छुपाने का मन करता है,
“वरिष्ठता”…उजागर करने का मन करता है ।

“ बुढ़ापा ”…अहंकारी होता है,
“वरिष्ठता”…अनुभवसंपन्न, विनम्र व संयमशील होती है

“बुढ़ापा”…नईपीढ़ी के विचारों से छेड़छाड़ करता है,
“वरिष्ठता”…युवापीढ़ी को बदलते समय के अनुसार, जीने की छूट देती है ।

“बुढ़ापा”“हमारे ज़माने में ऐसा था” की रट लगाता है,
“वरिष्ठता”… बदलते समय से अपना नाता जोड़ती है और उसे अपना लेती है।

“बुढ़ापा”… नईपीढ़ी पर अपनी राय थोपता है,
“वरिष्ठता”… तरुणपीढ़ी की राय समझने का प्रयास करती है।

“बुढ़ापा”… जीवन की शाम में अपना अंत ढूंढ़ता है,
“वरिष्ठता”… जीवन की शाम में भी एक नए सवेरे का इंतजार करती है तथा युवाओं की स्फूर्ति से प्रेरित होती है ।
•••••••

“वरिष्ठता” और “बुढ़ापे” के बीच के अंतर को…. गम्भीरतापूर्वक समझकर, जीवन का आनंद पूर्ण रूप से लेने में सक्षम बनिए।
उम्र कोई भी हो….
सदैव फूल की तरह खिले रहिए,….
उमंग उत्साह में रहिए…
और दूसरों के जीवन के लिए प्रेरणा बनिए ….🙏🏻

AFFILIATE LINKS AMAZON.IN

Garments for all

https://www.amazon.in/gp/bestsellers/apparel?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=411370469568002b2aa51fec4aa0841c&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

https://www.amazon.in/Atomic-Habits-James-Clear/dp/1847941834?_encoding=UTF8&psc=1&refRID=V2CBPHBFX6B2N9NHCQJN&linkCode=ll1&tag=wondertips70e-21&linkId=7cf70a2e20e289e87c395bfc4b0e1450&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl


https://www.amazon.in/gp/bestsellers/electronics?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=8f88fe80a44d7556d7d94402238d8111&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Baby care

https://www.amazon.in/gp/bestsellers/baby?ie=UTF8&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=bd8dae349638c39edd6efc92dbed02a3&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Bestsellers in computers

https://www.amazon.in/gp/bestsellers/electronics/1458204031?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=5f5b9c2187f28e918330e001a4a5aca2&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Bestsellers in Laptops

https://www.amazon.in/gp/bestsellers/electronics/1375424031?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=562f44ac07a83c4e46f9fe7d6aa10663&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Bestsellers in health & personal care

https://www.amazon.in/gp/bestsellers/hpc?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=4ace82f63c760f79fa24d0281a566097&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

https://www.amazon.in/gp/bestsellers?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=cac883fc3b34635fcaed4bc88a418e3a&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Boys apparels

https://www.amazon.in/gp/bestsellers/apparel/1967851031?&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=23b6ad0a2cc110e8d7453aad8ac169c5&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Women

https://www.amazon.in/s?bbn=1953602031&rh=n%3A1953602031%2Cp_n_pct-off-with-tax%3A27060457031&dc=&qid=1633135310&rnid=2665398031&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=c4bab542cefb29da64a22dcaf1ee5e29&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Women sportswear

https://www.amazon.in/s?i=apparel&bbn=1953602031&rh=n%3A1571271031%2Cn%3A1953602031%2Cn%3A1968428031%2Cp_n_pct-off-with-tax%3A27060457031&dc=&qid=1633135331&rnid=1953602031&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=9fd45fb900c0ede62bec62114e8de64f&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Mens wear

https://www.amazon.in/s?bbn=1968024031&rh=n%3A1571271031%2Cn%3A1968024031%2Cn%3A1968062031&dc=&qid=1633135537&rnid=1968024031&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=6e016bceafad4d61ca2b306b7af795dd&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

Kitchen choppers

https://www.amazon.in/s?k=choppers+tupperware&rh=n%3A4951860031&linkCode=ll2&tag=wondertips70e-21&linkId=4cb305ae344bb2270c2cac867e28113f&language=en_IN&ref_=as_li_ss_tl

कृपया बिना रोए पढ़ें।

जीवन संगिनी – धर्म पत्नी की विदाई
अगर पत्नी है तो दुनिया में सब कुछ है। राजा की तरह जीने और आज दुनिया में अपना सिर ऊंचा रखने के लिए अपनी पत्नी का शुक्रिया। आपका फुला-फला परिवार सब पत्नि की मेहरबानी हैं |आपकी सुविधा असुविधा आपके बिना कारण के क्रोध को संभालती है। तुम्हारे सुख से सुखी है और तुम्हारे दुःख से दुःखी है। आप रविवार को देर से बिस्तर पर रहते हैं लेकिन इसका कोई रविवार या त्योहार नहीं होता है। चाय लाओ, पानी लाओ, खाना लाओ। मेरा चश्मा व मोबाईल लाओ |ये ऐसा है और वो ऐसा है। कब अक्कल आएगी तुम्हे? ऐसे ताने मारते हो। उसके पास बुद्धि है और केवल उसी के कारण तो आप जीवित है।समाज मे सिर ऊँचा ,सीना तानकर चलते हों | वरना दुनिया में आपको कोई भी नहीं पूछेगा। अब जरा इस स्थिति की सिर्फ कल्पना करें:
एक दिन पत्नी अचानक रात को गुजर जाती है !सब तरफ सन्नाटा है|
घर में रोने की आवाज आ रही है। पत्नी का अंतिम दर्शन चल रहा था।
उस वक्त पत्नी की आत्मा जाते जाते जो कह रही है उसका वर्णन:
मैं अभी जा रही हूँ अब फिर कभी नहीं मिलेंगे
तो पति देव मैं जा रही हूँ।
जिस दिन शादी के फेरे लिए थे उस वक्त साथ साथ जियेंगे ऐसा वचन दिया था |पर इस समय अचानक अकेले जाना पड़ेगा ये मुझ को पता नहीं था।
मुझे जाने दो।
अपने आंगन में अपना शरीर छोड़ कर जा रही हूँ। आप अकेले पड़ जायेंगे |
बहुत दर्द हो रहा है मुझे।
लेकिन मैं मजबूर हूँ अब मैं जा रही हूँ। मेरा मन नही मान रहा पर अब मै कुछ नहीं कर सकती।
मुझे जाने दो
बेटा और बहु रो रहे है देखो।
मैं ऐसा नहीं देख सकती और उनको दिलासा भी नही दे सकती हूँ। पोता दादी दादी दादी माँ कर रहा है ,उसे शांत करो, बिल्कुल ध्यान नही दे रहे है। हाँ और आप भी मन मजबूत रखना और बिल्कुल ढीले न हों।आँखों से आँसू मत बहने देना |
मुझे जाने दो
अभी बेटी ससुराल से आएगी और मेरा मृत शरीर देखकर बहुत रोएगी , तड़प – तड़प कर रोयेगी ,बैहोश हो जायेगी |तब उसे संभालना और शांत करना। और आपभी बिल्कुल भी नही रोना। बस इतनी हिम्मत रखना |
मुझे जाने दो
जिसका जन्म हुआ है उसकी मृत्यु निश्चित है। जो भी इस दुनिया में आया है वो यहाँ से ऊपर गया है। यह प्रकृति का नीयम हैं |धीरे धीरे मुझे भूल जाना, मुझे बहुत याद नही करना। और इस जीवन में फिर से काम मे डूब जाना। अब मेरे बिना जीवन जीने की आदत जल्दी से डाल देना। गुमसुम न रहना |
मुझे जाने दो
आप ने इस जीवन में मेरा कहा कभी नही माना है। अब जिद्द छोड़कर व्यवहार में विनम्र रहना। आपको अकेला छोड़ कर जाते मुझे बहुत चिंता हो रही है। लेकिन मैं मजबूर हूं।
विधाता ने इतने दिन ही साथ रहने का लेख लिखा है |
मुझे जाने दो
आपको BP और डायबिटीज है। गलती से भी मीठा नही खाना ,न ही कही कार्यक्रम में खाना खाने जाना ,अन्यथा परेशानी होगी।
सुबह उठते ही दवा लेना न भूलना। चाय अगर आपको देर से मिलती है तो बहु पर गुस्सा न करना। अब मैं नहीं हूं ,यह समझ कर जीना सीख लेना।
मुझे जाने दो
बेटा और बहू कुछ बोले तो
चुपचाप सब सह और सुन लेना। कभी गुस्सा नही करना। हमेशा मुस्कुराते रहना कभी उदास नही होना,कि मैं अकेला हूँ |
मुझे जाने दो
अपने बेटे के बेटे के साथ खेलना। अपने दोस्तों के साथ समय बिताना। अब थोड़ा धार्मिक जीवन जिएं ताकि जीवन को संयमित किया जा सके। अगर मेरी याद आये तो चुपचाप रो लेना ,लेकिन कभी कमजोर नही होना।
मुझे जाने दो
मेरा रूमाल कहां है, मेरी चाबी कहां है अब ऐसे चिल्लाना नही। सब कुछ चयन से रखना और याद रखने की आदत करना। सुबह और शाम नियमित रूप से दवा ले लेना। अगर बहु भूल जाय तो सामने से याद कर लेना। जो भी रूखा – सूखा खाने को मिले प्यार से खा लेना और गुस्सा नही करना।
मेरी अनुपस्थिति खलेगी पर कमजोर नहीं होना।
मुझे जाने दो
बुढ़ापे की छड़ी भूलना नही और धीरे धीरे से चलना।
यदि बीमार हो गए और बिस्तर में लेट गए तो किसी को भी सेवा करना पसंद नहीं आएगा।
तो आप चुपचाप अनाथ आश्रम चले जाना ,बच्चे व बहू की बुराई मत करना |
मुझे जाने दो
शाम को बिस्तर पर जाने से पहले एक लोटा पानी माँग लेना। प्यास लगे तभी पानी पी लेना।एक पुरानी टार्च है ,उसे ठीक करा लेना
अगर आपको रात को उठना पड़े तो अंधेरे में कुछ लगे नही , उसका ध्यान रखना।
मुझे जाने दो
शादी के बाद हम बहुत प्यार से साथ रहे। परिवार में फूल जैसे बच्चे दिए। अब उस फूलों की सुगंध मुझे नही मिलेगी।आप बगीयन को मेरी जगह ,प्यार से निहारते रहना |
मुझे जाने दो
उठो सुबह हो गई अब ऐसा कोई नहीं कहेगा। अब अपने आप उठने की आदत डाल देना , किसी की प्रतीक्षा नही करना।
चाय-नाश्ता मिले न मिले तो ,
चुपचाप सह लेना |
मुझे जाने दो
और हाँ …. एक बात तुमसे छिपाई है ,मुझे माफ कर देना।
आपको बिना बताए बाजू की पोस्ट ऑफिस में बचत खाता खुलवाकर 14 लाख रुपये जमा किये है। बचत करना मेरी दादी ने सिखाया था। एक एक रुपया जमा कर के कोने में रख दिया। इसमें से पाँच पाँच लाख बहु और बेटी को देना और अपने खाते में चार लाख रखना आपके लिए।
मुझे जाने दो
भगवान की भक्ति और पूजा सामयिक स्वाध्याय करना भूलना नही। अब फिर कभी नहीं मिलेंगे !!
मुझसे कोईभी गलती हुई हो तो मुझे माफ कर देना।
मुझे जाने दो
मुझे जाने दो
आपकी जीवन संगिनी

आइए, हम वर्ष 2021में संकल्प करते हैं कि अपनी धर्म-पत्नी के साथ आजीवन सम्मानपूर्ण व्यवहार करते हुए उसे लक्ष्मी,सरस्वती और दुर्गा स्वरूप समझेंगे।
नारी नर की खान है ,
हिन्दूस्तान की शान है||
🙏👏🙏👏🙏👏🙏
👏👏

Table of Contents

Leave a Reply