कर्म भोग

पूर्व जन्म के कर्मों से ही हमें अपने जीवन में माता पिता, भाई बहन, पति पत्नी, सगे संबंधियों, मित्र शत्रु आदि के रिश्ते मिलते हैं। क्योंकि या तो इनसे कुछ लेना होता है या तो कुछ देना। त्रणानुबंध: पूर्व जन्म में आप किसी से ऋण लिया हो या उसे नष्ट पहूँचाए हो, वो इस जन्म […]

कर्म भोग

Leave a Reply